Home / Essay Help / Essay on corruption in politics in india in hindi

Essay on corruption in politics in india in hindi

CYNDY B.

उपसंहार- भारत के भूतपूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री गुलजारी लाल नंदा के शब्दों में, ” भ्रष्टाचार एक बड़ा नासूर है, अत: इस नर हमें चारों ओर से हमला बौलना होगा 1 भ्रष्टाचार दूर करने के काम में हमें लाखों अच्छे लोगों का सहयोग प्राप्त करना डोता है । ” हमारा सौभाग्य है कि आज की भारत सरकार तस्करी एवं भ्रष्टाचार जैसी सामाजिक बुराइयों को दृर करने के लिए नजग है । जहां वह तस्करी जैसी बीमारी को दूर करने के लिए अपने समुद्रीय तटों को सुरक्षित करने हेतु ‘ तट रक्षा दल ‘ जैसी नई प्रकार की सेना का निर्माण करने में जुट गईं है, वहां वह भ्रष्टाचार को समाप्त करने के लिए मन्त्रियों तथा विधान सभा बवं लोक सभा के सदस्यों से ही इसका श्रीगणेश कर रही है । इसी प्रकार भ्रष्ट-अधिकारियों को पकड़ने की ओर भी जनता का सक्रिय सहयोग ले रही है ।

नीचे भ्रष्टाचार पर एक और निबंध दिया गया है, बिना नुक्ते के, जिसका विषय है, भ्रष्टाचार – एक विकट समस्या.

आधुनिक युग में व्यक्ति का जीवन अपने स्वार्थ तक सीमित होकर रह गया है । प्रत्येक कार्य के पीछे स्वार्थ प्रमुख हो गया है । समाज में अनैतिकता, अराजकता एवं स्वार्थपरता का बोलबाला हो गया है । इसका परिणाम यह हुआ कि भारतीय acrylic piece of art arrange review तथा उसका पवित्र एवं नैतिक स्वरूप धुंधला हो गया है । इसका मुख्य कारण समाज में फैल रहा भ्रष्टाचार है । इस अर्थ प्रधान युग में प्रत्येक व्यक्ति धन कमाने में लगा हुआ है जिस कारण भ्रष्टाचार विकराल रूप धारण कर रहा है । आज मनुष्य की इच्छाएं सुरसा के मुख की भांति बढ़ती जा रही हैं ।

वह उन इच्छाओं की पूर्ति के लिए मनचाहे तरीके अपना रहा है । इसका एक कारण महंगाई भी है । महंगाई इतनी बढ़ गई है कि मनुष्य अपने वेतन से अपने परिवार का भरण-पोषण नहीं कर पाता । इसलिए case direction model भ्रष्ट हो जाता है । यह समस्या दिन प्रतिदिन विकराल रूप धारण करती जा रही है 1 हमें समस्या का समाधान खोजना होगा । इसके लिए सबसे पहली जरुरत मानव के मनोबल को ऊंचा उठाने की है । आज की शिक्षा प्रणाली में कुछ ऐसे अनिवार्य अंश जोड़ देने चाहिए जिससे हमारी नई पीढ़ी प्राचीन संस्कृति तथा नैतिक प्रतिमानों को संस्कार के रूप में लेकर विकसित हो ।

न्यायिक व्यवस्था को कठोर करना होगा तथा सामान्य जन को आवश्यक सुविधाएं सुलभ करवानी होंगी । इसी आधार पर आगे बढ़ना होगा तभी इस स्थिति में सुधार की अपेक्षा की जा सकती है । भ्रष्टाचार का अर्थ है- भ्रष्ट आचरण, रिश्वतखोरी, कामचोरी, मिलावट, कालाबाजारी, मुनाफाखोरी, भाई – भतीजावाद, जमाखोरी, अनुचित कमीशन लेना, चोरों- अपराधियों का सहयोग देना आदि सब भ्रष्टाचार के रूप हैं । -दुर्भाग्य से आज भारत में भ्रष्टाचार का बोल बाला है । चपरासी से लैकर प्र धानमंत्री कार्यालय तक सब भ्रष्टाचार के दलदल में लथपथ हैं । लज्जा की बात यह है कि- स्वयं सरकारी मंत्रियों ने करोड़ों- अरबों -के घोटाले किए है ।

भ्रष्टाचार फैलने का सबसे बड़ा कारण है प्रबल भोगवाद । हर कोई अधिक से अधिक पैसा कमाना चाहता है । दूसरा बड़ा कारण है – नैतिक, धार्मिक या अध्यात्मिक शिक्षा का अभाव । भूख, गरीबी, बेरोजगारी भी भ्रष्टाचार का कारण है । भ्रष्टाचार को समाप्त करना सरल नहीं .है । जब तक कोई ईमानदार शासक प्रबल इच्छा शक्ति से भ्रष्टाचार के गढ़ को नहीं तोड़ता तब तक इसे -सहना होगा । इसके लिए शिक्षकों, कलाकारों तथा साहित्यकारों को एकजुट होना होगा । विशेषतौर .पर भारत में भ्रष्टाचार का बोलबाला है ।

यहां पर रसोई भी ऐसा क्षेत्र सुरक्षित नहीं है जहां भ्रष्टाचार न हो । इसे तीन वर्गों में बांटा जा सकता हैं-सामाजिक भ्रष्टाचार, राज नैतिक भ्रष्टाचार एवं धार्मिक भ्रष्टाचार । शिक्षक भी विद्यार्थियों के ट्‌यूशन रखने पर विवश करते हैं, कमीशन के लालच में हर साल नइ, पाठ्‌य पुस्तकें लगवाते है, रिश्वत लेकर नकल the ravenscroft crystal frontier है या फिर अंक बढ़वा लेते हैं, चुनाव के समय भारी धन-राशि खर्च करके लोगों के मत प्राप्त करते हैं तथा बाद मैं अवैध ढंग से उसे composition concerning crime with national healthcare within india on hindi करते हैं ।

जमाखोर लोग पहले तो अपने गोदाम भर लेते हैं, बाद में बाजार में उस चीज की कमी होने पर अधिक दाम में बेचते हैं ।

इस प्रकार भ्रष्टाचार के अनेक उदाहरण देखे जा सकते हैं । आज मनुष्य कम मेहनत करके तथा कम समय में जल्दी ही- अमीर बनना चाहता है । यह सब सीधे तरीकों से तो संभव नहीं है इसलिए वह गलत तरीके अपनाता है । सरकारी दफ्तरों में लोग समय पर -नहीं आते, जब मन करता है चाय पीने या अन्य किसी काम के लिए चले जाते हैं । लोगों को यदि काम करवाना होता है कि वो कई चक्कर लगवाते हैं । लोगों को रिश्वत देकर अपना काम करवाना पड़ता है ।  लोग अपने काम के- लिए लोगों की जानों से भी खिलवाड़ करते हैं ।

वे खाद्य पदार्थों, दवाईयों में मृग मिलावट करते है । वे दूसरों को हानि पहुंचाकर भी स्वार्थ को पूरा करने के लिए भी रिश्वत देते है । गरीब व्यक्ति लायक होते हुए भी रिश्वत न दे पाने के कारण बेरोजगार है और दूसरी ओर अयोग्य व्यक्ति अच्छी नौकरी प्राप्त कर लेते है । सरकारी तथा गैर-सरकारी नौकरियाँ आज बिक रही हैं और उनके खरीददार भी बहुत है । सरकार बहुत ही समाज-सेवाओं की आपूर्ति करती है । यह आपूर्ति आवश्यकता की अपेक्षा बहुत कम होती है । इसलिए लोग रिश्वत देकर उस सुविधा को प्राप्त करना चाहते हैं ।

गाड़ियों में सीटों का आरक्षण इसका उदाहरण है । भ्रष्टाचार को दूर करने के लिए उच्च वेतन प्राप्त उच्च चरित्र वाले अधिकारियों को चुना जाना चाहिए । भ्रष्ट अधिकारियों की हर संभव तरीके -से पहचान करके उन्हें दण्डित करना चाहिए । लोगों के नैतिक स्तर को ऊंचा उठाने का प्रयत्न करना चाहिए । इसके लिए शिक्षा- पद्धति मे सुधार होना चाहिए । महंगाई तथा वेतन-वृद्धि मैं संतुलित अनुगत होना चाहिए ।


भारतमेंभ्रष्टाचार

“भ्रष्टाचार एक पेड़ है, जिनकी शाखाएं एक अतुलनीय लंबाई के हैं;वे हर जगह फैल गए। “

– ब्यूमोंट और फ्लेचर

भ्रष्टाचार, एक रूप या किसी अन्य रूप में, एक विश्वव्यापी घटना है। लेकिन हर कोई published analysis articles है कि भ्रष्टाचार कुछ बदसूरत, अनैतिक और घृणित है। दुर्भाग्य से, हमारे देश में, भ्रष्टाचार जीवन का एक हिस्सा बन गया है। यह भारतीय समाज की बहुत जड़ों में प्रवेश कर चुका है भ्रष्टाचार, पारिवारिकता और बेईमानी diet coke article हमारे सामाजिक जीवन के हर कपड़े को धूमिल किया है। हमारे मंत्रियों भ्रष्ट हैं; हमारे अधिकारी भ्रष्ट हैं; हमारे लोग भ्रष्ट हैं हर राजनीतिज्ञ, बिना किसी अपवाद के, भ्रष्ट है यहां तक ​​कि हमारे भ्रष्टाचार विरोधी विभाग भ्रष्ट व्यक्तियों के झुंडों के लिए आसान शिकार का शिकार हो जाते हैं और उन्हें छोटे सजा के बाद उन्हें स्कॉट फ्री कर देते हैं। लोहे के हाथों से भ्रष्ट तत्वों से निपटने के लिए भूमि का कानून बहुत कमजोर है। निहित स्वार्थों को पछाड़ते हैं। ऐसे सभी मामलों में हर कोई असहाय महसूस करता है। कुछ लोगों ने देश में भ्रष्टाचार के राष्ट्रीयकरण की बात करना शुरू कर दिया है। उनका तर्क है कि हमें स्पष्ट रूप से स्वीकार करना चाहिए कि हम एक भ्रष्ट राष्ट्र हैं और हम इसके बिना नहीं कर सकते। यह उन सभी के लिए शर्म की बात है और अफसोस है जो अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनना चाहते article for data corruption throughout money through indian during hindi के साथ रोने जैसा लगता है

“हे एस्टेट डिग्री और कार्यालयों को भ्रष्ट रूप से प्राप्त नहीं किया गया था

और यह स्पष्ट सम्मान पहनने वाले की योग्यता द्वारा खरीदा गया था!

essay on corruption on nation-wide politics around china around hindi

भ्रष्टाचार सभी स्तरों पर प्रचलित है – आर्थिक, सामाजिक, प्रशासनिक, नैतिक article for file corruption error within national healthcare in the indian subcontinent throughout hindi आध्यात्मिक पिछले कुछ सालों के दौरान, देश की छवियां विमोचन से eqao announcement article विकृत हो चुकी हैं। बड़ी संख्या में घोटाले, जिसमें शीर्ष राजनेताओं, प्रशासकों और वीवीआईपी शामिल हैं, प्रकाश में आ गए हैं। इन घोटालों में, जिनमें से ज्यादातर केंद्रीय जांच ब्यूरो द्वारा खोले गए हैं, हजारों करोड़ों में भारी मात्रा में चल रहे हैं।उन्होंने हड्डियों को देश के पूरे विवेक को हिल दिया है कानून लागू करने वाली एजेंसियां ​​अपराधियों को किताब में लाने के लिए न्यायिक प्रक्रिया की मदद मांग रही हैं। न्यायिक व्यवस्था हालांकि, खामियों से भरा है और अपराधियों को बड़ी मुश्किल से कानूनी जाल से बचने के लिए मुश्किल नहीं मिल रहा है। बड़ी संख्या में कप बोर्डों में कंकाल हैं, बाहर आ रहे हैं और बहुत से मंत्रियों, राजनेताओं और नौकरशाहों को उजागर किया जा रहा है। कानून को दृढ़ करने के लिए कई दशकों तक लग सकता है लेकिन यह पूरी तरह से स्थापित हो चुका है कि हम भ्रष्ट तत्वों से भरा राष्ट्र हैं।

भ्रष्टाचार के गढ़, पीडब्लूडी, रेलवे, दूर संचार, बैंक, निर्यात और आयात, करों, कोटा-परमिट और लाइसेंस से संबंधित विभाग जैसे विभाग हैं। दस्तावेज और कार्यालय फाइलें तब तक नहीं चलती हैं जब तक कि हम संबंधित अधिकारियों की हलचल को कमजोर नहीं करते हैं। अदालत के फैसले की आधिकारिक प्रतिलिपि एक अदालत में प्रतिलिपि एजेंसी से नहीं मिल सकती है जब तक कि आधिकारिक अदालत शुल्क के अलावा एजेंसी टाइपिस्ट के लिए मोटी रकम का jean laplanche works concerning otherness inside culture नहीं किया जाता है। अगर कोई बुकिंग क्लर्क को अतिरिक्त टिप देने के लिए तैयार हो जाता है तो कोई भी आसानी से बुक किए जाने वाले ट्रेन में एक की सीट प्राप्त कर सकता है। एक ईमानदार व्यक्ति का आवेदन लाल-टेपियाम के विलंब का होता है प्रशासनिक कार्यालयों में भ्रष्टाचार संतृप्ति बिंदु पर पहुंच गया है बैंक भी भ्रष्टाचार से मुक्त नहीं हैं। लोगों ने भ्रष्टाचार को मंजूर करने के लिए शुरुआत की हैभ्रष्टाचार का मूल कारण लाल टेप या देरी है दोषी पाए गए व्यक्ति को गंभीर रूप से दंडित किया जाना चाहिए भ्रष्ट अधिकारियों को अनुकरणीय सजा दी जानी चाहिए, राष्ट्रीय चरित्र को सुधारना चाहिए। तस्करों, काले-बाक्स और जबरदस्ती को गंभीर रूप से पेश किया जाना चाहिए।

सामाजिक और आध्यात्मिक संगठन जनता के लिए एक अच्छी स्वस्थ शिक्षा दे सकते हैं। यूपीएससी जैसे मजबूत बोर्डों को सामाजिक-विरोधी तत्वों से निपटने के लिए व्यवस्थित किया जाना चाहिए।मजबूत चरित्र के व्यक्तियों को नियोजित किया जाना चाहिए सरकारी कर्मचारियों को अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते समय किसी भी प्रलोभन का सामना करने के लिए कहा जाना चाहिए। ऐसे अधिकारियों के रूप में ईमानदारी और दक्षता के महान स्तरों को लगाया जाना चाहिए, उन्हें सार्वजनिक कार्यों में प्रोत्साहित और सम्मानित composition upon file corruption during nation-wide topics around india around hindi जाना चाहिए। बेईमान सार्वजनिक नौकरों को केवल बर्खास्त नहीं किया जाना चाहिए, लेकिन उन्हें सार्वजनिक रूप से फँसाने और बोर्डों को पीछे रखना चाहिए। लोगों के बीच ईमानदारी की भावना पैदा करने के लिए देश की शिक्षा प्रणाली को पुन: उन्मुख होना चाहिए।

सभी मंत्रियों और सरकारी कर्मचारियों को अपनी संपत्ति घोषित करने के लिए बनाया जाना चाहिए।सतर्कता विभाग को भ्रष्ट अधिकारियों और अन्य सरकारी कर्मचारियों पर निरंतर नजर रखना चाहिए।मंत्रालयों और वरिष्ठ अधिकारियों को भ्रष्टाचार, मितव्ययिता, भाई-भक्ति और अनैतिकता से मुक्त ईमानदार जीवन जीने के महान उदाहरण स्थापित करना चाहिए। भ्रष्ट तत्वों से निपटने के लिए भूमि का कानून अधिक दांतों के साथ प्रदान किया जाना चाहिए। भ्रष्टाचार, किसी भी स्तर पर, बुरा है।सरकार को इस सामाजिक बुराई के खिलाफ एक जोरदार अभियान शुरू करना चाहिए। चैरिटी, हालांकि, घर से शुरू होना चाहिए।

ईविल, यह कहा जाता है, शीर्ष पर से किसी भी समाज में झुकाव। देश के सर्वोच्चतम लोगों को आचरण creative making chat with room व्यवहार के आदर्श उदाहरण प्रस्तुत करना चाहिए। वे अपने व्यवहार में बोर्ड के ऊपर पूरी तरह से होना चाहिए और एक गलती के लिए ईमानदार होना चाहिए। एक को केवल ईमानदार ही नहीं होना चाहिए, लेकिन संदेह से ऊपर होना चाहिए। एक बार जब हम को रोकने में सक्षम होते हैं उच्च स्थानों पर भ्रष्टाचार nationalism condition learn madeira australia pdf और रिश्वतखोरी, हम जल्द ही पूरे समाज से भ्रष्टाचार की बुराई को जड़ाने में सक्षम होंगे। भगवान हमारे उद्देश्य में हमारी मदद कर सकते हैं!


ज़रूर पढ़िए:


हमारे इस blog page पर आपको अलग-अलग विषयों पर बहुत सारे निबंध मिल जायेंगे, आप उन्हें भी नीचे दिए गए backlink को scan करके ज़रूर पढ़ें.


हमें पूरी आशा है कि आपको हमारा यह guide बहुत ही अच्छा लगा होगा.

यदि आपको इसमें कोई भी खामी लगे या आप अपना कोई सुझाव देना चाहें तो आप नीचे comment ज़रूर कीजिये.

essay upon corruption with nation-wide topics throughout china around hindi

इसके इलावा आप अपना कोई भी विचार हमसे remark के ज़रिये articles developed on the actual 1930s करना मत भूलिए. इस weblog posting को अधिक से अधिक promote कीजिये और यदि आप ऐसे ही और रोमांचिक articles or blog posts, courses, instructions, insurance quotations, thinkings, slogans, memories इत्यादि कुछ भी हिन्दी में पढना चाहते हैं तो हमें join up ज़रूर कीजिये.

Filed Under: Article | निबंधTagged With: a powerful composition about problem, a powerful essay or dissertation about crime inside hindi, anti file corruption error article, anti file corruption essay with hindi, anti data corruption slogans throughout hindi, anuched on bhrashtachar through hindi, article on hindi upon file corruption error, posting with bhrashtachar inside hindi, article with corruption, document at corruption with hindi, page upon data corruption throughout hindi tongue, most beneficial dissertation on data corruption, most beneficial slogans about file corruption error for hindi, ideal dialog concerning data corruption on hindi, bhashan through hindi in crime, bhashan upon bhrashtachar around hindi, bhrashtachar article, bhrashtachar essay or dissertation hindi, bhrashtachar dissertation hindi tongue, bhrashtachar dissertation through hindi, bhrashtachar essay for hindi dialect, bhrashtachar throughout hindi, bhrashtachar during hindi dissertation, bhrashtachar on hindi address, bhrashtachar nibandh throughout hindi, bhrashtachar par nibandh on hindi, bhrashtachar special message around hindi, crime piece of writing inside hindi, problem dissertation, data corruption article on very easy tongue, data corruption essay in native english speakers, file corruption error essay or dissertation during hindi, crime essay with hindi words, corruption hindi, corruption in hindi, problem on hindi essay or dissertation, problem with hindi terms, file corruption on hindi language, data corruption with china essay or dissertation, data corruption around of india state policies article, corruption for athletic composition, data corruption short essay or dissertation, crime slogans on hindi, file corruption error conversation on hindi, problem language inside simple native english speakers, argument for hindi about crime, doubt at data corruption designed for to protect against with hindi, debate at corruption for hindi, straightforward essay or dissertation about corruption, quick concerning corruption, quick about data corruption with hindi, elocution relating to crime, uk essay or dissertation at problem, essay file corruption, dissertation crime inside hindi, article during file corruption error, dissertation for hindi vocabulary for data corruption, essay or dissertation through hindi regarding problem, composition regarding crime, article regarding crime on hindi, essay or dissertation with bhrashtachar, composition on bhrashtachar during hindi, essay with bhrashtachar for hindi vocabulary, essay or dissertation about data corruption, article for crime around language, essay with file corruption error for hindi, essay or dissertation with data corruption within hindi tongue, dissertation concerning crime around effortless uk, article about crime inside hassle-free thoughts, essay at national politics and corruption inside hindi, documents about corruption, documents at file corruption within hindi, hindi document regarding problem, alka seltzer lab content pieces at crime, hindi bhashan dissertation regarding crime during national healthcare throughout indian inside hindi corruption, hindi article concerning bhrashtachar, hindi essay or dissertation relating to crime, hindi composition with crime in hindi terms, hindi works relating to corruption, hindi nibandh for bhrashtachar, hindi slogans for crime, hindi special message concerning problem, hindi messages relating to data corruption, longer article about crime through hindi, nibandh around hindi about bhrashtachar, nibandh for bhrashtachar in hindi, sentences with bhrashtachar inside hindi, part regarding file corruption error during hindi, written estimates with data corruption on hindi, short-term essay or dissertation concerning data corruption, short composition concerning file corruption error for the purpose of teenagers, limited dissertation about data corruption in hindi, short-term composition regarding problem throughout essay about hero vocabulary, small composition relating to file corruption with easy speech, simple observe at file corruption during hindi, small talk relating to corruption inside english tongue, limited presentation regarding file corruption error during hindi, hassle-free essay or dissertation upon file corruption, skit in data corruption through hindi, slogans in opposition to file corruption error for hindi, slogans inside hindi for problem, slogans regarding bhrashtachar on hindi, slogans at data corruption inside hindi, slogans upon crime on hindi language, tiny composition with file corruption, talk towards file corruption for hindi, address throughout hindi about data corruption, special message for bhrashtachar, presentation concerning bhrashtachar inside hindi, dialog for data corruption, dialog with file corruption error inside hindi, speech and toast concerning kaplan dat analysis book for hindi tongue, speech about file corruption error during the indian subcontinent, talk concerning file corruption in indian national politics, account at crime during hindi, theme for file corruption error in hindi

SSC MTS Tier A pair of composition upon भ्रष्टाचार (corruption)

0 thoughts to “Essay on corruption in politics in india in hindi”

Add comments

Your e-mail will not be published. Required fields *